होते कौन हो तुम 🔥🔥🔥

होते कौन हो तुम,

मुझे चरित्र प्रमाण 📩पत्र देने वाले।

होते कौन हो तुम,

मेरी जिंदगी के फैसले लेने वाले।

जिंदगी मेरी है तो फैसले भी मेरे होगें,

जिस्म मेरा है तो कपड़े भी मेरे होगें।

मेरे कपडों पर गंदी राजनीति करने वाले,

होते कौन हो तुम?

मुझे चरित्र प्रमाण पत्र देने वाले।

जब मैं बोलू, मुझे चुप रहने की हिदायत देने वाले,

जब मैं हसू , तो मुझे तहजीब सीखाने वाले,

किसी गूंगी को फिर क्यों नहीं ब्याहात़े,

सुनो, ओ! मेरी आवाज पर लगाम कसने वाले।

बेटे के जन्म पर अपनी मूछों को ताव देने वाले,

और बेटी के जन्म पर मातम मनाने वाले।

लानत है तुम पर.. 👫

ओ! बेटे बेटी में फर्क करने वाले।

होते कौन हो तुम…….?

मुझे चरित्र प्रमाण पत्र देने वाले।

लड़की की ना को हाँ और हाँ को ना कहने वाले,

बिना उसकी मर्जी के, उसको छूने वाले,

ना मतलब, सिर्फ ना होता है,

गांठ बांधकर सुनलो,

ओ! अपनी मर्दानगी पर इतराने वाले।

होते कौन हो तुम………?

मुझे चरित्र प्रमाण पत्र देने वाले।

समय बदला, दौर बदला

बदला वक्त, सदी नारी की आयी,

फिर क्या फिर तो नारी भी भारी थी 😎भाई।

चरित्र उसका है, व्यक्तित्व उसका है,

तो होगें प्रमाण पत्र भी उसके।

कान खोलकर सुन ले,

ओ! अपने को सर्वश्रेष्ठ समझने वाले,

होतें कौन हो तुम………?

मुझे चरित्र प्रमाण पत्र देने वाले।

51 Comments

  1. दुनिया उसकी तन उसका है
    हर संसाधन भी उसका है
    जीने का हक भी उसका है
    बस साथ चलो घर उसका है

    Liked by 2 people

      1. सह अस्तित्व ही समाज का मूल है। एक दूसरे को कम आंक कर हम एक प्रेममय जग का निर्माण नहीं कर सकते

        Liked by 1 person

  2. नारी जाती के मन में सदैव हुकै मारने वाले प्रश्नों का उत्तम चित्रण ,बढ़िया पोस्ट !!

    Liked by 2 people

  3. क्या खूब लिखा है। मेरा दिल जीत लिया अपने।

    कैसे खुद को शिक्षित कहते
    कैसे खुद को विकसित कहते
    जहाँ नार अब भी गुलाम,दोयम दर्जे में रहती है,
    कैसे दुनियाँ उस समाज को सभ्य,सुसंस्कृत कहती है।

    Liked by 2 people

  4. मौहतरमा हम दुनिया वाले है….जख्म दिखाओगे तो खुरेद देंगे……ना दिखाओगे तो प्रमाण पत्र देंगे।
    I had heard somewhere that “The best fictional stories goes to Society”

    Liked by 2 people

    1. सही कहा आपने दुनिया वालो के पास बस इक यही काम बाकि है। पर अफ़सोस भी बेरोजगारी बरकरार है। 👏

      Liked by 1 person

  5. बहुत खूब!!
    पृथ्वी है नारी… वसुंधरा है नारी… देवी है नारी…
    नर का उद्धार करने आइ है नारी…
    जो ना समझे उसका संहार कर जायेगी नारी…

    Liked by 1 person

  6. A great thumbs up for this post…(p.s.- I am bound to comment only as you don’t have the like button.)
    A Great Poem on Women Empowerment!!! I liked the way you represented it in a rhythmic style. It should be shared with all the narrow-minded people.

    Liked by 1 person

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s